पंजाबी गायिका हार्ड कौर अब एक नयी मुसीबत में फस गयी हैं. सोशल मीडिया पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और उसके सरसंचालक मोहन भागवत और उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ अभद्र टिपण्णी करने के बाद से ही वे फस गयी हैं. दरअसल उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर 'हु किल्ड करकरे' की किताब की एक तस्वीर लगाकर इसका इल्जाम मोहन भागवत पर लगाया. लेकिन ये पहली बार नहीं है, वे लगातार भागवत और आदित्यनाथ के खिलाफ टिप्पणियां करती रही हैं.  हार्ड कौर ने करकरे की हत्यानामक एक पुस्तक और मारे गए पत्रकार गौरी लंकेश की तस्वीर के साथ एक आपत्ति जनक टिप्पणी की है जो किसी भी राष्ट्रवादी को आहत होने के लिए काफी बताया जा रहा है. अब इस मामले में वाराणसी के एक स्थानीय वकील शशांक शेखर की शिकायत पर कैंट थाने में बुधवार को पंजाबी सिंगर हार्ड कौर के खिलाफ कई धाराओं में एफआईआर दर्ज कराई गयी है.