कांग्रेस नेता और पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम को दिल्ली हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है. आईएनएक्स मीडिया केस में हाईकोर्ट ने चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है और अब इस मामले में चिदंबरम पर गिरफ्तारी की तलवार लटकने लगी है. दरअसल ईडी और सीबीआई आईएनएक्स मीडिया केस में चिदंबरम को गिरफ्तार करना चाहती हैं,

हालांकि हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद पी. चिदंबरम के वकीलों ने अब सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. चिदंबरम पर आईएनएक्स मीडिया को फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड से गैरकानूनी रूप से स्वीकृति दिलाने के लिए 305 करोड़ रुपये की रिश्वत लेने का आरोप है. इस केस में अभी तक चिदंबरम को कोर्ट से करीब दो दर्जन बार अंतरिम प्रोटेक्शन यानी गिरफ्तारी पर रोक की राहत मिली हुई है. ये मामला 2007 का है, जब पी. चिदंबरम यूपीए सरकार में वित्त मंत्री के पद पर थे.