छत्तीसगढ़ के बिलासपुर सेंट्रल जेल परिसर में रहने वाली छह साल की बच्ची समेत कैदियों के बच्चों का स्कूलों में दाखिला कराया गया है। ये दाखिले जिला कलेक्टर संजय अलांग, जेल प्रशासन और स्थानीय प्रशासन ने कराए हैं। इस बच्ची के पिता अपनी पत्नी की हत्या के जुर्म में जेल की सजा काट रहे हैं। वह अपनी पांच साल की सजा पूरी कर चुके हैं और अभी पांच साल और जेल में रहेंगे।  बच्ची बिना किसी गुनाह के जेल में कैदियों की तरह रह रही थी। अब वह जेल में नहीं बल्कि स्कूल के हॉस्टल में रहकर अपना भविष्य संवारेगी। इससे पहले वह जेल में संचालित प्ले स्कूल में पढ़ रही थी।