भारत के मंगलग्रह पर पहुंचने की दूसरी कोशिश में 15 जुलाई को जीएसएलवी-एमके-थ्री एम1 रॉकेट को  लॉन्च के लिए भेजा था लेकिन तकनीकी खराबी के कारण लॉन्च को रोकना पड़ा. लेकिन अपने इरादे में पक्के इसरो के वैज्ञानिकों ने चंद्रयान 2 कि लॉन्च की रिहर्सल पूरी कर ली है और अब इसे 22 जुलाई को दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर लॉन्च किया जायेगा. इसरो ने इस बारे में ट्वीट कर बताया कि जीएसएलवी का लॉन्च रिहर्सल पूरा हुआ और उसका प्रदर्शन सामान्य है. अंतरिक्ष वैज्ञानिक टी वेंकटेश्वरन का कहना है कि कल लॉन्च के समय 1 मिनट का समय दिया जायेगा क्यूंकि ऐसा ना करने पर चांद कि स्तिथि बदल सकती है.