सीबीआई ने आय से अधिक संपत्ति मामले में समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव को क्लीनचिट दे दी। जांच एजेंसी ने मंगलवार को शीर्ष अदालत में हलफनामा दाखिल कर इसकी जानकारी दी। सीबीआई ने कहा कि उसने 7 अगस्त 2013 को ही अपनी जांच बंद कर दी थी। उसे ऐसा कोई सबूत नहीं मिला, जिससे पिता-पुत्र के खिलाफ मामला दर्ज कराया जा सके। सुप्रीम कोर्ट ने मार्च 2007 में सीबीआई को मामले की जांच का आदेश दिया था। अब इसके बाद उनकी छोटी बहू अपर्णा ने कहा कि नेताजी को फंसाया गया था।