Varanasi(UP): लोकसभा चुनाव 2019 में एनडीए सरकार को मिली बड़ी कामयाबी को लेकर अब देश के लोगों की नजरें आने वाले आम बजट 2019 पर टिक गयी हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार के सरकार अपने बजट में ग्रामीण अर्थव्यवस्था और किसानों को तरजीह दे सकती है। किसानों को सीधे राहत के लिए सरकार कुछ बड़ी घोषणाएं भी कर सकती है और मोदी सरकार से बजट पेशी में इनकम टैक्स में छूट को लेकर और रियल एस्टेट सेक्टर और इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में फंड की किल्लत दूर करने के लिए बजट 2019-20 में बड़ी घोषणाएं उम्मीद है। सरकार इस बजट पर किसान भी टकटकी लगाए बैठा शायद उसके लिए भी बजट में कुछ खास होगा।

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का बजट 5 जुलाई 2019 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करेंगी। इस सरकार से भी यही उम्मीद की जा रही है। पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने पहले बजट पेश करने से पहले लगातार विशेषज्ञों के साथ बैठक कर रही हैं लोगों के द्वारा दी जा रही राय को बारीकी से सुन रही हैं। खबर है कि मोदी सरकार कई अन्य बड़े फैसले भी लेने की तैयारी में जुटी है। चुनाव के ठीक बाद जब भी बजट पेश हुए हैं तब-तब सत्तारूढ़ पार्टी के घोषणापत्र की बहुत सारी योजनाएं जमीन पर उतर जाती हैं। अब उस पर कितना अमल कर रही हैं, क्या-क्या बजट में शामिल किया जाता है किसे खुशी और किसे नाराज किया जाएगा ये सब 5 जुलाई को ही पता चल पाएगा। फिलहाल देश की जनता को बजट से काफी उम्मीदें हैं वह भरोसे के साथ बजट का इंतजार कर रहा है।