आज 25 जून को देश में इमरजेंसी की 44th सालगिरह मनाई जा रही है. इमरजेंसी के उस दौर के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी ने प्रदर्शन किया और उस दिन को काले दिवस के रूप में मनाया. इस दौरान सभी प्रदर्शनकारियों ने काली पट्टी पहनी हुयी थी. वहीं दूसरी ओर उन्होंने इमरजेंसी के खिलाफ बैनर भी पकडे हुए हैं. इन प्रदर्शनकारियों का कहना है की ये काला दिवस आज की नौजवान पीढ़ी को याद कराने के लिए मनाया गया है. उन्होंने दौरान कांग्रेस के खिलाफ अपने प्रदर्शन में उसे भारतीय संविधान की हत्यारी कहा है.