देशभर में इस बार मानसून ने हाहाकार मचा दिया है. जहां लोग बरसात के मौसम के इंतजार में थे वहीं अब ये इंतजार एक बड़ी मुसीबत के साथ खत्म हुआ. देश के उत्तरी और खास तौर पर उत्तर पूर्व भारत में लगातार बारिश होने के कारण पानी का स्तर खतरे से पार हो चूका है जिसके कारण गांव के गांव बाढ़ में डूब रहे हैं. बिहार में 20 से ज्यादा जिले के लाखों लोग प्रभावित हो रहे हैं. सीतामढ़ी जिले में पानी शहर तक आने के कारण मंदिर भी डूब रहे हैं. मुजफ्फरपुर में सड़क के द्वारा संपर्क टूट चुका है. मधुबनी में बाढ़ की स्थिति सोमवार को भी भयावह रही. बिहार में जनजीवन में बाधा आने के बाद अब मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने स्तिथि का जायजा लिया. उन्होंने बाढ़ ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया और इस स्तिथि से निपटने के लिए बैठक भी की.