AIMIM चीफ Asaduddin Owaisi ने कहा है कि वे Ayodhya Case Verdict से सहमत नहीं है। Supreme Court के फैसले के बाद Owaisi ने कहा कि मुस्लिम पक्ष अपने कानूनी हक के लिए लड़ रहे थे। उन्होंने कहा कि AIMPLB अपने लिए अपने पैसे से mosque बना सकता है। उन्होंने कहा कि Supreme Court जरूर है, लेकिन अचूक नहीं है। AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कहा, 'मैं वकीलों की टीम को धन्यवाद देता हूं। मैं All India Muslim Personal Law Board की इस बात से सहमत हूं कि सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम है, लेकिन वो अचूक (INFALLIBLE) नहीं है. मुस्लिम समाज ने अपने वैधानिक हक के लिए संघर्ष किया। हमें 'खैरात' की जरूरत नहीं है। ये मेरा निजी तौर पर मानना है कि हमें 5 एकड़ जमीन के ऑफर को वापस लौटा दिया जाना चाहिए।