समय का चक्र लगातार चलता रहता है। वर्तमान पर धूल की पर्तें चढ़ती जाती हैं और वह इतिहास में दफन हो जाता है। आज से करीब 15 सौ साल पहले भारत के मध्यवर्ती हिस्से में एक बड़ा साम्राज्य हुआ करता था, जिसे महाकोसल के नाम से जाना जाता था। गुप्त का ल के इतिहास में यह देश की 16 महाजनपदों में से एक था। आज महाकोशल की जगह छत्तीसगढ़ राज्य के नाम से इस क्षेत्र को जाना जाता है। इसी महाकोशल में भद्रावती के सोमवंशी पाण्डव नरेशों ने अपनी राजधानी स्थापित की थी। इस राजधानी का नाम सिरपुर था जो उस समय एक संपन्न् और भव्य शहर हुआ करता था।