चमचमाता राजा भोज सेतु, कमला पार्क, वर्धमान पार्क, आसपास आलीशान बिल्डिंग और सामने शहर की पहचान बड़ा तालाब, यानी भोपाल की सबसे प्राइम लोकेशन। यहीं, सड़क किनारे फल के ठेलों के पीछे छिपा हुआ पुराना लोहे का गेट है। थोड़ा अंदर जाने पर बड़ी बड़ी बिल्डिंगों की आड़ में दबा हुआ एक पुराना ढांचा नजर आता है। यह देश ही नहीं बल्कि पूरे एशिया का सबसे पुराना वो हमाम है जो आज भी वैसे ही चल रहा है जैसे तीन सौ साल पहले चलता था। तीन सौ साल से यदि यहां कुछ नहीं बदला है तो इसका श्रेय जाता है उस परिवार को जो इतने सालों से यहां आने वालों की खिदमत करता आ रहा है। इतिहास और शहर की पहचान कायम रहे इसलिए इस परिवार ने इस बेशकीमती जमीन के लिए बिल्डरों के 10 करोड़ रुपये तक के ऑफर भी नामंजूर कर दिए।