Hauz Khas Social में काम करने वाली  Mehrunnisa एक मशहूर Female Bouncer हैं। इनकी कहानी किसी फिल्म से कम नहीं है।बचपन में अब्बा ने किताबें जलाई फिर भी इन्होने कभी हार नहीं मानी पिछले 14 सालों से मेहरूनिशा बाउंसर का काम कर रही है। इन्होने बताया की क्लब की लाइफ के बारे में, अपने बारे में। Saharanpur के एक मुस्लिम परिवार में जन्मी मेहरूनिशा आर्मी में जाना चाहती थी या पुलिस फ़ोर्स का हिस्सा बनना चाहती थी, पर उसके पिता को ये मंजूर न था। वो उसे पढ़ने से रोकते थे और चाहते थे कि उसकी शादी जल्दी कर दी जाए लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और दिखाया कैसे कोई भी कुछ भी चाहे तो कर सकता है।