उन्नाव रेप केस की पीडि़ता जिस कार से रायबरेली जा रही थी उस कार को रायबरेली के अतरुआ गांव के पास 28 जुलाई 2019 को टक्‍कर मार दी गई। ट्रक नंबर यूपी 71 एटी 8300 के चालक फतेहपुर के रहने वाले आशीष को पकड़ लिया गया। युवती के साथ कार में उसकी चाची, मौसी और वकील थे। घटना में कार में सवार पीडि़ता की चाची और मौसी दोनों की मौत हो गई। वहीं दुष्‍कर्म पीडि़ता और वकील जिंदगी और मौत से लखनऊ किंग जॉर्ज मेडिकल इलाज में जूझ रहे हैं। पीड़िता को फ्रैक्चर है। उसके शरीर में कई जगह चोटे आईं है। जो पीडि़ता लखनऊ के अस्‍पताल में में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। उसने 4 जून 2017 को आरोप लगाया था कि बीजेपी के एमएलए कुलदीप सेंगर ने उसके साथ दुष्‍कर्म किया था। पीडि़ता अपने पड़ोसी की मदद स बीजेपी के विधायक के पास नौकरी मांगने गई थी। इस पूरे मामले में तारीख-दर-तारीख क्‍या हुआ है। देखिए वीडियो।