सिवान की बात हो तो शहाबुद्दीन पर चर्चा होना लाजमी है...। एक ऐसा वक्त था, जब लोग कहते थे कि सिवान में शहाबुद्दीन की मर्जी के बिना एक पत्ता भी नहीं हिलता। हालांकि आरजेडी के बाहुबली नेता और माफिया डॉन शहाबुद्दीन अभी दिल्ली के तिहाड़ जेल में सजा काट रहे हैं, लेकिन सिवान की राजनीति आज भी उनके इर्द-गिर्द घूमती है। इसे चंद्रशेखर प्रसाद उर्फ चंदा बाबू से बेहतर कौन जानता है। चंदा बाबू के घर का अंधेरा छंटने का नाम नहीं लेता, उनकी पत्नी बीमार हैं। अंधेरे के बावजूद नजर सबसे पहले कोने में पड़ी तीन तस्वीरों पर जाती है, चंदा बाबू के तीन बेटे, जिन पर शहाबुद्दीन का कहर गिरा, 2004 का तेजाब कांड... जिसने चंदा बाबू, सिवान और शहाबुद्दीन के लिए सबकुछ बदल कर रख दिया।

लोकसभा चुनाव 2019 से संबंधित ग्राउंड रिपोर्ट वीडियोज यहां देखें