कांग्रेस पार्टी का हाथ छोड़नेवाली प्रियंका चतुर्वेदी ने शिवसेना का दामन थाम लिया। उन्होंने मुंबई में मातोश्री पहुंचकर शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात की घोषणा भी की। प्रियंका ने गुरुवार रात को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना इस्तीफा सौंपा था। शुक्रवार सुबह ही उन्होंने अपनी ट्विटर प्रोफाइल से ‘कांग्रेस प्रवक्ता’ भी हटा दिया था। इससे पहले उन्होंने अपनी प्रोफाइल में ‘राष्ट्रीय प्रवक्ता कांग्रेस’ जोड़ा हुआ था। प्रियंका के कांग्रेस छोड़ने के साथ कयास लगाए जाने लगे थे कि मथुरा में हुई घटना के विरोध में उन्होंने ये कदम उठाया है। ट्विटर पर भी उन्होंने मथुरा घटना को लेकर खुलकर अपनी नाखुशी जाहिर की थी। बता दें कि मथुरा में कांग्रेस पार्टी के ही कुछ कार्यकर्ताओं ने प्रियंका चतुर्वेदी से दुर्व्यवहार किया था। हालांकि, उन्हें अपने व्यवहार पर खेद जताने के बाद पार्टी में फिर वापस ले लिया गया। प्रियंका ने इस पर प्रियंका ने कड़ी नाराजगी जताई थी। वहीं शिवसेना ज्वॉइन कर प्रियंका ने ये साफ भी कर दिया कि उन्होंने आत्मसम्मान के लिए कांग्रेस छोड़ी है।