लोकसभा चुनावों के खत्म होने के बाद रविवार को आए एग्जिट पोल ने जहां एक तरफ बीजेपी के कुनबे में त्यौहारी माहौल बना दिया वहीं कांग्रेस और सहयोगी दलों के माथे पर चिंता साफ देखी जा सकती है। इसी कड़ी में मंगलवार को कांग्रेस के भोपाल से उम्मीदवार दिग्विजय सिंह भी काफी चिंतित दिखाई दिए और वे जिला कारागार पहुंच गए। चौंकिए मत दरअसल‌ जिला कारागार में ईवीएम को सुरक्षित तौर पर रखा गया है और दिग्विजय सिंह वहीं देखने के लिए कारागार पहुंचे थे.इस दौरान सिंह ने सीसीटीवी कैमरे पर ईवीएम मशीनों की सुरक्षा को देखा और जेल अधिकारियों के साथ इस संबंध में चर्चा भी की। अधिकारियों ने उन्हें भरोसा दिलाया की ईवीएम पूरी तरह से सुरक्षित हैं और उसकी सुरक्षा में लोग 24 घंटे तैनात भी हैं। कुछ देर वहां पर रुकने के बाद दिग्विजय वहां से रवाना हो गए। स्ट्रांग रूम से बाहर आने के बाद दिग्विजय सिंह ने मीडिया से बात नहीं की। हालांकि एग्जिट पोल के अनुमान का कोई असर दिग्विजय पर देखने को नहीं मिला। दिग्विजय जब स्ट्रांग रूम वाली इमारत से बाहर आए तो उनके चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी। यही नहीं, जब मीडिया ने उनसे सवाल पूछना चाहा तो दिग्विजय सिंह ने हंसते हुए हाथ हिला दिया।