पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में मंगलवार शाम भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में हुए बवाल के बाद सियासी घमासान तेज हो गयी है.अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस पूरे मामले में ममता सरकार पर गंभीर आरोप लगाये। अमित शाह ने इस दौरान दावा किया कि एक नहीं बल्कि तीन हमले हुए हैं साथ ही उन्होंने हिंसा की कुछ तस्वीरें दिखाते हुए हिंसा को बयां किया साथ ही कहा कि RPF के जवान ना होते तो मेरा बचके निकला मुश्किल था।वहीं महान दार्शनिक, समाजसुधारक और लेखक ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति तोड़ेने का आरोप उऩ्होंने टीएमसी पर लगाया. कहा कि झूठी संवेदना के टीएमसी के गुंडों ने यह षडयंत्र रचा।ममता बनर्जी की सरकार पर हमला करते हुए अमित शाह ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले पंचायत चुनाव में भी टीएमसी वालों ने हिंसा की थी।इतना ही नहीं अमित शाह ने चुनाव आयोग पर भी पक्षपात करने का आरोप लगाया है।