लोकसभा चुनाव में दावों के उलट करारी हार झेलने वाले समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन के टूटने की चर्चाएं हैं। मायावती की ओर से कार्यकर्ताओं को 11 विधानसभा उपचुनावों में अकेले लड़ने की तैयारी के निर्देश के बाद यह कयास लग रहे हैं। मायावती ने अखिलेश को नसीहत देते हुए कहा कि अगर उनके कुछ नेताओं में सुधार नहीं होता है, समाजवादी पार्टी की स्थिति ठीक नहीं होती है तो उनके साथ ऐसे में चलना बड़ा मुश्किल होगा। दूसरी ओर अखिलेश यादव ने गठबंधन से अलग होने का संकेत दिया। साथ ही एसपी अध्यक्ष ने यह भी दावा किया कि सूबे में 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी सरकार बनाएगी।