बिहार के मुख्यमंत्री और बीजेपी के दोस्त नीतीश कुमार ने झारखंड विधानसभा में पूरी ताकत से उतरने का मन बना लिया है. नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी को पुख्ता तैयारी के साथ एक-एक सीट के लिए जोर आजमाइश करने को कहा है. इसके बाद जेडीयू और उसके कार्यकर्ता पूरे दमखम के साथ चुनाव में उतरने को उतावले दिख रहे हैं. अनुच्छेद 370, एनआरसी से लेकर तीन तलाक तक... भाजपा से अलग राय रखने नीतीश कुमार के लिए झारखंड विधानसभा चुनाव काफी अहम है.