बढ़ते स्टडी प्रेशर की वजह से आजकल लगभग विश्व के सभी कॉलेज कैम्पस में डिप्रेशन एक गम्भीर समस्या का रूप लेता जा रहा है. इसकी मुख्य वजह कॉलेज स्टूडेंट्स का बड़ी आसानी से इसका शिकार होना है. स्टडी या फिर किसी अन्य समस्या को लेकर थोड़ी देर के लिए चिंतित होना जायज तथा जरुरी है क्योंकि तभी हम उसे पूरा करने की सही राह तलाशते हैं. लेकिन बिना कुछ किये सिर्फ उसके विषय में सोचते रहना डिप्रेशन का मुख्य कारण है.इसके अतिरक्त क्लास स्टडी, सेमेस्टर एग्जाम की तैयारी, अगर घर से बाहर रहते हैं तो बजट का भी ध्यान रखना आदि कार्यों को एक साथ करने की नई जिम्मेदारी के कारण भी स्टूडेंट्स डिप्रेशन की चपेट में आ जाते हैं. डिप्रेशन की वजह से मन में उदासी के कारण किसी काम में मन नहीं लगता तथा अधिक समय तक इसको नजरअंदाज करने पर यह एक गम्भीर मानसिक समस्या का रूप ले सकता है. अतः प्राम्भिक अवस्था में ही इसका सही उपचार किया जाना बहुत जरुरी है.