प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वच्छ भारत अभियान देशभर में हो रहा है लोकप्रिय. इस अभियान ने लोगों को न सिर्फ स्वच्छता के लिए जागरूक किया है बल्कि इससे प्रेरित होकर लोगों में नए नए विचार भीआ रहे हैं.अलीगढ़ की २५ वर्षीया आशना मित्तल, जो विदेश में आर्किटेक्चर की पढ़ाई कर रही हैं, उन्होंने प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान से प्रेरणा लेकर प्लास्टिक की बोत्त्लों से बनाया ये आश्रय. उनका कहना है की उन्होंने अपनी मां की प्लास्टिक के प्रदुषण के खिलाफ लड़ाई और प्लास्टिक से बढ़ती गन्दगी ने उन्हें सोचने पर मजबूर कर दिया. इसके बाद उन्होंने इस घर का निर्माण किया जिसमे उन्होंने प्लास्टिक का अनोखा इस्तेमाल किया.