फेसबुक से डाटा चोरी होने और चुनावों के दौरान उनका दुरुपयोग होने का मामला गर्माया है। मार्क जकरबर्ग ने भी गलती मान ली है। इस बीच, सवाल उठा है कि आखिर अपने यूजर के डाटा के साथ कोई भी सोशल मीडिया कंपनी खिलवाड़ कैसे कर सकती है? सच्चाई तो यह है कि ये कपंनियां यूजर के डाटा से ही कमाई कर ही हैं। उन्हें तो उल्टा लोगों को इन प्लेटफॉर्म्स का उपयोग करने के लिए पैसे देना चाहिए, क्योंकि यूजर नहीं आएंगे, अपनी चीजें शेयर नहीं करेंगे तो चाहे फेसबुक हो या गूगल, कोई भी सोशल मीडिया कंपनी चल नहीं पाएगी। 

अमेरिका में सामने आया दिलचस्प कोर्ट केस 
डाटा को लेकर अमेरिका में एक दिलचस्प कोर्ट केस चला है। यहां HiQ नामक कंपनी ने LinkedIn के खिलाफ शिकायत की थी। दरअसल, किसी यूजर ने LinkedIn पर अपनी डिटेल्स पोस्ट की और HiQ ने LinkedIn से उठाकर उसे यूज कर लिया। इस पर LinkedIn ने आपत्ति ली और कहा कि वह डाटा उसका है।