पिछले कुछ वर्षों से मकर संक्रांति (Makar Sankranti) को लेकर काफी ऊहापोह की स्थिति बन रही है। मकर संक्रांति का त्योहार पहले 14 जनवरी को मनाया जाता था। अब पिछले कुछ वर्षों से मकर संक्रांति की तिथि (14 जनवरी या 15 जनवरी) को लेकर असमंजस की स्थिति बन रही है। कुछ लोग पुरानी मान्यताओं या कहें तिथि के हिसाब से 14 जनवरी को मकर संक्रांति मना रहे हैं, तो कुछ लोग 15 जनवरी को ये त्योहार मना रहे हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि कौन सी तिथि सही है और क्यों?