भगवान गणेश को खुश करने के लिए तरह तरह के पकवान व व्यंजन बनाए जाते हैं। इनमें सबसे खास होते हैं मोदक, जिसे भगवान गणेश का प्रिय मीठा माना जाता है। यही वजह है कि मंदिर से लेकर घरों में भी इसे खासतौर पर भोग के रूप में रखा जाता है। 

पहले जहां मोदक को एक या दो प्रकार से ही बनाया जाता था वहीं अब इस मीठे को कई तरह से बनाया जाने लगा है। इनका स्वाद भी शानदार होता है। वैसे अगर आप चाहें तो बाजार से लाने की जगह घर पर भी अलग अलग तरह के मोदक बना सकती हैं, इसमें हमारी बताई हुई रेसिपीज आपके काफी काम आएंगीं।

ट्रडिशनल मोदक 
इस मोदक को बनाने के लिए गुड़ और नारियल का इस्तेमाल होता है। इसे खासतौर से महाराष्ट्र में बनाया जाता है, लेकिन आप चाहे देश के किसी भी कोने में रहती हों अगर आप हमारी यह रेसिपी फॉलो करेंगी तो घर पर ही यह स्वादिष्ट मोदक बना सकेंगी। 

उकडीचे मोदक 
उकडीचे मोदक विशेषकर मराठी लोग बनाते हैं। इसे बनाने का भी एक खास तरीका होता है जो इसे विशेष बनाता है। खास बात यह है कि इसे तैयार करना बेहद आसान है। तो अगर आप भी उकडीचे मोदक बनाना चाहती हैं तो यह रेसिपी ट्राई कर सकती हैं। 

लौकी मावे का मोदक 
क्या आपने कभी सोचा है कि मोदक में मावे, नारियल और गुड़ के साथ ही लौकी भी डाली जा सकती है? जी हां पोषक तत्वों से भरी लौकी को मोदक में डाला जा सकता है और यकीन मानिए यह स्वाद खराब नहीं करती बल्कि और बढ़ा देती है। 

चॉकलेट नट्स मोदक 
बच्चे मोदक का प्रसाद लेने में आनाकानी करते हैं? तो क्यों न इस बार आप चॉकलेट नट्स के मोदक बनाएं। ये मोदक इतने टेस्टी होते हैं कि बच्चे खुशी खुशी इसे प्रसाद के रूप में लेंगे और खाएंगे भी। 

केसरी मोदक 
केसर के गुणों से भरपूर इन मोदकों का स्वाद बेहद शानदार होता है। मावे और केसर का कॉम्बिनेशन इन्हें न सिर्फ बड़ों बल्कि बच्चों के लिए भी टेस्टी बना देता है। केसरी मोदक बनाना भी आसान होता है।