जब आप किसी नए शहर में कोई फ्लैट खरीदने जा रहे होते हैं तो बिल्डर आपके सामने बिल्ट-अप एरिया, सुपर एरिया और कॉर्पेट एरिया जैसे शब्दों का जिक्र करता है। लोग इन शब्दों के बीच के बारीक अंतर को नहीं समझते हैं। खरीदार कई बार फ्लैट में लिखे सुपर एरिया को अपने फ्लैट का साइज मानकर फ्लैट की बुकिंग कर देते हैं। जबकि असल फ्लैट इससे काफी कम होता है। इस वीडियो के जरिए आपको बिल्ट-अप एरिया, सुपर एरिया और कार्पेट एरिया के बारे में अच्छे से समझाने जा रहे हैं