इंडिया पोस्ट यानि भारतीय डाकघर के पेमेंट बैंक ने अपनी सेवाएं 1 अप्रैल 2018 से ही देना शुरू कर दिया है। बड़े नेटवर्क के साथ यह देश का सबसे बड़ा पेमेंट बैंक होगा। देश में डेढ़ लाख से अधिक डाकघर हैं और ये सभी पेमेंट बैंक शाखा के रूप में काम करेंगे। साल 2015 में आरबीआई ने इंडिया पोस्ट को पेमेंट बैंक के रूप में काम करने की सैद्धांतिक मंजूरी दी थी।

ग्राहकों को मिलेंगी ये सुविधाएं: 
पेमेंट बैंक प्रत्येक खाताधारक से एक लाख रुपए तक की जमा राशि स्वीकार कर सकते हैं। कोई भी व्यक्ति या व्यावसायिक प्रतिष्ठान इसमें खाता खुलवा सकता है। इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक 25 हजार रुपए तक की जमा पर 4.5 प्रतिशत की दर से ब्याज अदा करता है। जबकि 25 हजार से 50 हजार रुपए की राशि पर ब्याज दर 5 फीसद और 50 हजार से एक लाख रुपए की जमा पर 5.5 फीसद है