क्या महंगा होने का अंदेशा? 2018 की पहली तिमाही में दुनिया में तेल की खपत में तिमाहीआधार पर 1.6% और भारत में 11% बढ़ोतरी हुई है। जहां तक धातुओं बात है, वर्ल्ड बैंकको 2018 के दौरान इनकी कीमतें 9% तक बढ़ने की उम्मीद है। इससे कृषि जिंसों के दामइस साल 2% से ज्यादा बढ़ने के आसार हैं। इस साल कोयले के दाम औसतन 85 डॉलरमीट्रिक टन रहने की उम्मीद है।