चालू वित्त वर्ष 2017-18 खत्म होने में अब कुछ ही दिन का समय बचा है। एक वित्त वर्ष के दौरान लोग टैक्स की बचत के लिए तरह-तरह के विकल्पों में निवेश करते हैं, लेकिन इन विकल्पों में किया गया निवेश तभी टैक्स बचत का फायदा देता है जब इसे 31 मार्च से पहले पहले पूरा कर लिया गया हो। ऐसा न करने पर हमें नुकसान होता है यानी हमें पेनाल्टी भी देनी पड़ जाती है।