बेहतरीन अदाकारा, बेबाक विचारधारा और बिंदास नज़रिया, इन तीन बिंदुओं में राधिका आप्टे की शख़्सियत को परिभाषित किया जा सकता है।राधिका को आप इन दिनों हॉरर थ्रिलर वेब सीरीज़ ‘घूल’ में नेटफ्लिक्स पर देख रहे होंगे, जिसमें उन्होंने एक सुरक्षा एजेंसी की मुस्लिम अफ़सर का रोल निभाया है। इससे पहले राधिका इरोटिक वेब सीरीज़ ‘लस्ट स्टोरीज़’ की एक कहानी में फीचर हो चुकी हैं, जिसे उन्होंने ख़ुद लिखा था। काफ़ी चर्चित और पसंद की गयी वेब सीरीज़ ‘सेक्रेड गेम्स’ में भी राधिका ने एक अहम किरदार निभाया। राधिका बॉलीवुड की उन कलाकारों में शामिल हैं, जिन्होंने इंटरनेट के इस माध्यम की अहमियत शुरुआती दौर में ही समझ ली और कोई पूर्वाग्रह पाले बिना काम करना शुरू कर दिया, मगर एक वजह और भी है, जिसके चलते डिजिटल माध्यम अब राधिका की प्राथमिकताओं में शामिल हो गया है। इस बेहद अहम वजह का खुलासा राधिका ने ‘लाइट्स कैमरा एक्शन’ के इस एपिसोड में किया है। यह वजह कहीं ना कहीं राधिका की आज़ाद सोच से भी ताल्लुक रखती है, जिसके चलते कई दफ़ा वो आलोचनाओं का शिकार भी होती हैं। कंटेंट पर सेंसरशिप का मुद्दा भी आज कल सुर्ख़ियों में रहता है, जानिए राधिका इस बारे में क्या सोचती हैं? राधिका की निजी ज़िंदगी और करियर से जुड़ी ऐसी ही कई दिलचस्प बाते हैं, जो प्रेरित करती हैं। ऐसी बातों से पर्दा उठेगा जागरण डॉट कॉम के एंटरटेनमेंट एडिटर पराग छापेकर के साथ राधिका आप्टे की बातचीत में लाइट्स कैमरा एक्शन के इस एपिसोड में...