संवाद सूत्र, बड़कोट (उत्तरकाशी) : कुथनौर के पास बीते शुक्रवार को बंद हुआ यमुनोत्री हाईवे 18 घंटे बाद शनिवार सुबह 11 बजे सुचारू हो गया। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के बड़कोट खंड की टीम को हाईवे सुचारू करने में खासी मशक्कत करनी पड़ी।

बीती शुक्रवार शाम जनपद में तेज बारिश हुई। बारिश के कारण यमुनोत्री हाईवे पर बड़कोट से 17 किलोमीटर दूर कुथनौर के पास ऑलवेदर निर्माण की साइड में भारी भूस्खलन हुआ। इससे भूस्खलन का मलबा हाईवे पर करीब आधे किलोमीटर के दायरे में फैल गया। इसके साथ ही राजकीय इंटर कालेज कुथनौर का परिसर भी मलबे से भरा गया। साथ ही कुथनौर से एक किलोमीटर बड़कोट की ओर पहाड़ी से मलबा और पत्थर गिरे, जिसके कारण हाईवे बाधित हो गया। पाली गाड, स्याना चट्टी, हनुमान चट्टी, राणा चट्टी, जानकी चट्टी, गीठ क्षेत्र सहित यमुनोत्री धाम का संपर्क कट गया। हालांकि काफी मशक्कत के बाद शनिवार सुबह 11 बजे हाईवे पर आवाजाही सुचारू हो गई। वहीं करीब आधा किलोमीटर क्षेत्र में अभी भी दलदल व फिसलन भरा बना हुआ है। बारिश होने पर फिर से इस क्षेत्र में समस्या पैदा हो सकती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस