संवाद सूत्र, पुरोलाः Wild Bears Attack : उत्‍तराखंड के गढ़वाल मंडल के अलग-अलग स्थानों पर भालू के हमले में दो महिलाओं समेत चार लोग घायल हो गए। भालू के हमले की पहली घटना गोविंद वन्यजीव विहार के सुदूरवर्ती फतेह पर्वत के मसरी गांव की है।

यहां सेब के बागीचे में पेड़ों के थाले बना रहे एक बुजुर्ग पर भालू ने हमला कर दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। साथ में काम कर रहे परिवार के अन्य सदस्यों ने किसी तरह भालू को भगाया।

घायल को प्राथमिक उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोरी लगाया गया, जहां से उन्हें दून अस्पताल देहरादून के लिए रेफर कर दिया गया।

ग्रामीण घायल वृद्ध को लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोरी पहुंचे

रविवार की देर शाम को मसरी गांव निवासी मनमुरी सिंह (66) गांव के पास ही डगणी तोक में अपने परिवार के सदस्यों के साथ सेब के पेड़ों के लिए थाले बना रहा था कि अचानक भालू आ गया और मनमुरी सिंह पर हमला कर दिया। रविवार देर रात को ग्रामीण घायल वृद्ध को लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोरी पहुंचे।

यह भी पढ़ें : Almora में बुजुर्ग को शिकार बनाने वाली मादा गुलदार ढेर, मचान से मारी दो गोली, एक सिर व दूसरी दिल से हुई पार

स्थिति गंभीर होने पर घायल को देहरादून रेफर किया गया। मसरी गांव की प्रधान सुनीता देवी ने बताया कि क्षेत्र में भालू का इस कदर खौफ है कि ग्रामीण खेतों में काम करने नहीं जा पा रहे हैं। गोविंद वन्यजीव विहार नेशनल पार्क के रेंज अधिकारी अनिल रावत ने बताया कि घायल बुजुर्ग के स्वजन से मुलाकात कर पांच हजार रुपये आर्थिक सहायता दी गई है।

घास लेने गई महिलाओं पर भालू ने हमला कर दिया

रुद्रप्रयाग में गांव के पास ही घास लेने गई महिलाओं पर भालू ने हमला कर दिया। इस घटना में दो महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गई, दोनों महिलाओं को ग्रामीणों के सहयोग से जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

जखोली ब्लाक के भटवाड़ी गांव में सोमवार सुबह नौ बजे भटवाडी गांव की महिलाएं घास के लिए गांव के पास ही खेतों में गई थी। इसी बीच भालू ने घास काट रही 30 वर्षीय रेखा देवी एवं 44 वर्षीय सरोजनी देवी पर अचानक हमला कर दिया, जिससे दोनों महिलाएं घायल हो गई।

आसपास घास काट रही अन्य महिलाएं ने शोर-शराबा करने के बाद भालू जंगल की ओर भाग गया। सीएमएस आरएस पाल ने बताया कि एक महिला के सिर पर चोट है जबकि दूसरी के शरीर और मुंह पर चोटें आई है। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जंगल गए एक नेपाली मूल के व्यक्ति पर हमला कर दिया

तहसील सतपुली के अंतर्गत ग्राम चौमासूगाड में भालू ने घास लेने जंगल गए एक नेपाली मूल के व्यक्ति पर हमला कर दिया। हमले में घायल व्यक्ति को सतपुली हंस अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

राजस्व उपनिरीक्षक वेदप्रकाश सिंह पटवाल ने बताया कि घटना सुबह नौ बजे की है। नेपाल निवासी धीरू सोमवार को चौमासूगाड के समीप जंगल में घास लेने गया था। इसी दौरान झाड़ियों से निकले भालू ने उस पर हमला कर दिया। आसपास मौजूद ग्रामीणों के चिल्लाने के बाद भालू मौके से भाग गया।

दिन में गुलदार दिखने पर वन विभाग की टीमें पहुंची

वहीं कर्णप्रयाग एवं सिमली के बदरीनाथ एवं केदारनाथ वन प्रभाग जंगलों में गुलदार के दिन-दहाड़े दिखने से क्षेत्रवासी सहमे हैं। सोमवार को वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को सजग रहने के साथ सही सूचना समय पर देने के लिए प्रेरित किया।

दरअसल बीते पखवाड़ेभर से सिमली, मज्याडी, राड़खी सहित, नाकोट, डिम्मर क्षेत्र में गुलदार ने पशुओं को मारने की घटनाएं सामने आ रही है,लेकिन सोमवार की सुबह जब सिमली सहित ग्रामीण क्षेत्र की आबादी से लगी सीमा में गुलदार नजर आया तो जनप्रतिनिधियों ने इसकी सूचना केदारनाथ एवं बदरीनाथ वन प्रभाग को दी।

जिसपर मौके पर पहुंचे बदरीनाथ वन प्रभाग के रेंजर विजय सिह नेगी, केदारनाथ वन प्रभाग के धनपुर रेंज अधिकारी पंकज ध्यानी, फारेस्टर कृष्णा तिवारी, जमन सिंह सहित पांच सदस्यों की टीम मौके पर रवाना हुई ।

Edited By: Nirmala Bohra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट