संवाद सहयोगी, उत्तरकाशी : पूर्वी लद्दाख की गलवन घाटी में चीन की नापाक करतूत से सीमांत क्षेत्र के लोगों में आक्रोश है। साथ ही शहीद हुए भारतीय सैनिकों की शहादत पर विभिन्न संगठनों ने श्रद्धांजलि भी दी है।

पुरोला में कांग्रेसियों ने दो मिनट का मौन रख कर लद्दाख के गलवन घाटी में शहीद हुए भारतीय जवानों को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान कांग्रेसियों ने केंद्र सरकार से चीन के खिलाफ कार्रवाई कर शहीदों की शहादत का बदला लेने व चीन निर्मित सामान के आयात को तत्काल रोकने की मांग की। इस मौके पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजी राणा, रोजी सिंह सौंदाण, नगर पंचायत अध्यक्ष हरिमोहन नेगी, जगदीश गुसाईं, दिनेश खत्री, दिनेश चौहान, रेखा जोशी, मीना सेमवाल,जयेंद्र राणा, बिहारीलाल, जयेंद्र रावत, किशन सिंह आदि मौजूद थे।

वहीं उत्तरकाशी जिला मुख्यालय में जिला व्यापार मंडल उत्तरकाशी और ओम छात्र संगठन ने लद्दाख के गलवन घाटी में शहीद हुए भारतीय सैनिकों की शहादत पर श्रद्धांजलि दी। व्यापारियों ने हनुमान चौक पर सुमन मूर्ति के समीप शहीदों की याद में मोमबत्ती जलाकर दो मिनट का मौन धारण किया। इस मौके पर व्यापारियों ने चाइनीज वस्तुओं का बहिष्कार करने का संकल्प लिया। इस मौके पर जिलाध्यक्ष सुभाष बड़ोनी, विरेंद्र बत्रा, रमेश चंदोक, मनमोहन थलवाल, रोशन चौहान, अजय वर्मा, अजय प्रकाश बडोला आदि शामिल थे। ओम छात्र संगठन ने रामचंद्र उनियाल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय उत्तरकाशी परिसर में शहीद शौर्य पटल के सामने शहीदों की याद में श्रद्धांजलि अर्पित कर दो मिनट का मौन रखा। इस दौरान छात्र संगठन ने भी चाइनीज वस्तुओं का बहिष्कार करने की अपील की। इस मौके पर देवराज बिष्ट, आदित्य चौहान, गणेश राणा, शार्दुल बिष्ट, दीपक बिष्ट, सत्येंद्र पड़ियार, देवेंद्र चौहान, गजेंद्र पड़ियार, रेश्मा बिष्ट आदि शामिल थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021