जागरण संवाददाता, उत्तरकाशी : चिन्यालीसौड़ ब्लाक क्षेत्र के जिला पंचायत वार्ड दिचली में एक वोट से जीत-हार को लेकर जिला निर्वाचन के सामने दिन भर असमंजस की स्थिति रही। जो प्रत्याशी एक वोट से हारा उस प्रत्याशी ने दोबारा मतगणना की मांग को लेकर जिला निर्वाचन अधिकारी के पास आवेदन किया। जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने रिटर्निंग अधिकारी, जिला पंचायती राज व अन्य अधिकारियों से इस मामले में रिपोर्ट ली। जिसके बाद जिला निर्वाचन अधिकारी ने राज्य निर्वाचन आयोग से भी इस पर दिशा निर्देश मांगे। देर शाम प्रत्यावेदन को निरस्त कर दिया गया।

उत्तरकाशी जनपद के 25 जिला पंचायत वार्डों में 22 का परिणाम सोमवार की शाम को ही आ गया था। भटवाड़ी ब्लाक के बाडागड्डी वार्ड से निर्दल रविद्री देवी चुनी गई। जबकि डुंडा ब्लाक के धनारी वार्ड से भाजपा समर्थित मधु भटवाण चुनाव जीती। लेकिन चिन्यालीसौड़ ब्लाक के दिचली वार्ड में सोमवार की देर रात को मतगणना हुई। दिचली वार्ड में जिला पंचायत सदस्य के छह प्रत्याशी मैदान में थे। मतगणना जब पूरी हुई तो भाजपा समर्थित पंकज तीन मतों सभी प्रत्याशियों में आगे रहा। कुछ प्रत्याशियों ने फिर से कुछ बूथों पर मतगणना की मांग की। अलग-अलग प्रत्यावेदन के आधार पर 22 बूथों में से नौ बूथों पर दोबारा मतगणना हुई। जिसमें निर्दल प्रत्याशी सुंदरलाल मटवाण एक मत सबसे आगे रहा। जिसके आधार पर आरओ ने सुंदरलाल मटवाण को एक मत से विजयी होने की रिपोर्ट जिला पंचायत के रिटर्निंग अधिकारी को भेजी। लेकिन, मंगलवार की सुबह पंकज अपने समर्थकों के साथ जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय पहुंचा तथा सभी पोलिग बूथों पर रिकाउंटिग की मांग को लेकर प्रत्यावेदन किया। सुंदरलाल मटवाण के समर्थक भी जिला निर्वाचन अधिकारी से मिले तथा तीसरी बार काउंटिग न करने की मांग की। इस मामले में जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि जिस प्रत्याशी को शिकायत थी उसका प्रत्यावेदन मतगणना स्थल पर आरओ को देना चाहिए था। जब मतगणना स्थल पर सोमवार रात को 22 बूथों में से नौ बूथों पर दो बार मतगणना हुई। तो अन्य बूथों पर भी हो सकती थी। लेकिन, शिकायत करने वाले प्रत्याशी ने प्रत्यावेदन आरओ को समय से नहीं दिया। इस लिए जो प्रत्यावेदन उनके पास आया है उसे रद कर दिया गया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस