संवाद सूत्र ,पुरोला : मोरी ब्लॉक में बीएसएनएल की लचर दूर संचार सेवा से परेशान ग्रामीणों, व्यापारियों एवं जनप्रतिनिधियों ने बड़कोट से आए निगम के कनिष्ठ अभियंता सहित चार कर्मचारियों को मोरी स्थिति अस्थाई कार्यालय में बंधक बना दिया। आक्रोशित लोगों ने इस संबंध में तहसीलदार के माध्यम से जिलाधिकारी को भी ज्ञापन भेजा।

ग्रामीणों की मांग है कि जब तक जिला दूरसंचार प्रबंधक मौके पर वार्ता के लिए नहीं पहुंचते हैं, तब तक कर्मचारियों को नहीं छोड़ेंगें। गुरुवार को मोरी बाजार बंद रखने और जाम लगाने की भी चेतावनी दी है।

मोरी ब्लॉक में गत कई वर्षो से बीएसएनएल की संचार सेवाएं शो-पीस बनी हुई हैं। व्यापारी एवं जनप्रतिनिधि इस संबंध में कई बार शासन, प्रशासन सहित निगम के अधिकारियों को अवगत करा चुके हैं। समाधान न होने पर आक्रोशित व्यापारियों एवं जनप्रतिनिधियों ने बड़कोट से मोरी गए कनिष्ठ अभियंता सहित चार कर्मचारियों को मोरी बाजार में बीएसएनएल कार्यालय के दरवाजे पर शाम साढ़े तीन बजे तालाबंदी कर बंधक बना दिया। व्यापार मंडल के महामंत्री जयवीर रावत ने बताया कि टीडीएम या एसडीओ के मोरी पहुंचने पर ही बीएसएनएल कर्मियों को छोड़ दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस संबंध में दूरभाष से जिलाधिकारी को भी अवगत करा दिया गया है। रावत ने बताया कि उच्च अधिकारियों द्वारा शीघ्र वार्ता न करने पर 13 जून से व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद कर जाम भी लगाएंगे। इस अवसर पर व्यापार मंडल अध्यक्ष राकेश जैन, पूर्व कनिष्ठ प्रमुख गोविद सिंह, जयचंद रावत,संजय राणा, महावीर सिंह राणा आदि मौजूद थे।

वहीं जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने कहा कि ग्रामीणों, व्यापारियों को समझाने का प्रयास किया जा रहा है। मौके पर तहसीलदार तैनात है। एसडीएम को भी मौके पर भेजा गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप