उत्तरकाशी, [जेएनएन]: गंगोत्री नेशनल पार्क क्षेत्र में इनर लाइन के निकट नंदनवन सतोपंथ क्षेत्र में सेटेलाइट फोन का प्रयोग करने के मामले में खुफिया विभाग ने चार स्पेन नागरिकों को हिरासत में लिया है। उनके सामान की भी तलाशी ली गई लेकिन, इनके पास से कोई सेटेलाइट फोन नहीं मिला। पूछताछ में स्पेन नागरिकों ने सेटेलाइट फोन का प्रयोग किए जाने से इन्कार किया है। उत्तरकाशी के जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने कहा कि पुलिस को प्रकरण में नियमानुसार कार्रवाई करने को निर्देश दिए गए हैं। इसकी सूचना शासन को भी दे दी गई है।

सामान्य तौर पर सेना व सुरक्षा एजेंसियों के अलावा अन्य किसी नागरिकों के सेटेलाइट फोन का प्रयोग करना प्रतिबंधित है। अगर कोई व्यक्ति यहां सेटेलाइट का प्रयोग करता है तो उसकी लोकेशन आर्मी मुख्यालय में निकल आती है। सामरिक दृष्टि से संवेदनशील सीमावर्ती जिलों में इसको लेकर खासी सतर्कता बरती जाती है। 

कुछ दिन पहले नंदनवन सतोपंथ वाले क्षेत्र में एक सेटेलाइट फोन से बातचीत करने की जानकारी सुरक्षा एजेंसियों को मिली। जिसके बाद सुरक्षा एजेंसियां सक्रिय हुई। सेना की खुफिया एजेंसियां तथा स्थानीय सुरक्षा एजेंसियों ने इसकी पड़ताल की। सेटेलाइट फोन प्रयोग करने के संदेह में गंगोत्री के कनखू बैरियर पर नंदनवन गोमुख क्षेत्र से लौट रहे पर्वतारोहियों की जांच की गई। 

शुक्रवार की शाम स्पेन के चार नागरिकों को खुफिया एजेंसियों ने हिरासत में लिया। इनमें तीन पुरुष और एक महिला पर्वतारोही शामिल है। शनिवार को गंगोत्री में भी इन स्पेन के नागरिकों से पूछताछ की गई। पोर्टरों के जरिये लाए गए उनके सामान की भी जांच की गई है। लेकिन, अभी तक किसी के पास सेटेलाइट फोन नहीं मिला।

जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने दोपहर इस सिलसिले में उत्तरकाशी में खुफिया विभाग व पुलिस के अधिकारियों के साथ बैठक की। गौरतलब है कि उत्तरकाशी जनपद में विदेशी नागरिक योग, ध्यान करने से लेकर पर्वतारोहण व ट्रैकिंग करने के लिए काफी संख्या में आते हैं। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2011 में उत्तरकाशी में एक विदेशी नागरिक से प्रतिबंधित सेटेलाइट फोन मिला था। इस पर विदेशी नागरिक पर न्यायालय ने जुर्माना लगाया गया था।

यह भी पढ़ें: ड्रोन व सेटेलाइट फोन से लैस होंगे उत्तराखंड के सभी जिले

यह भी पढ़ें: चीन-नेपाल सीमा पर सेटेलाइट फोन प्रयोग के मामले बढ़े

यह भी पढ़ें: गंगोत्री हिमालय में हुआ सेटेलाइट फोन का प्रयोग, खुफिया विभाग अलर्ट

Posted By: Sunil Negi