संवाद सहयोगी, उत्तरकाशी :

महर्षि विद्या मंदिर ज्ञानसू में गुरु पूर्णिमा पर्व मनाया गया। विद्यालय के प्रधानाचार्य विवेक रावत ने बताया कि कोविड -19 के कारण छात्र-छात्राओं ने अपने-अपने घरों में रहकर इस गुरु पूर्णिमा को उत्साह पूर्वक मनाया।

वहीं गुरु पूर्णिमा पर भटवाड़ी ब्लॉक के ज्ञानजा गांव के निकट वरुणावत पर्वत के शीर्ष पर स्थित शिखलेश्वर धाम में स्वामी शंकर और स्वामी महिमानंद ने वेद व्यास गुफा में विधि विधान के साथ पूजा, अर्चना और हवन किया। स्वामी शंकर ने बताया कि महाभारत में उल्लेख है कि वेद व्यास ने बद्रीनाथ में चार वेदों और महाभारत की रचना की थी। वहीं वेद व्यास जी ने वरुणावत पर्वत पर व्यास कुंड के समीप गुफा में 18 पुराणों की रचना की थी।

इस मौके पर क्षेत्र पंचायत सदस्य तनुजा नेगी, भाजपा जिला महामंत्री हरीश डंगवाल, ज्ञानजा ग्राम प्रधान ममलेश भट्ट, विजेंद्र पंवार, ज्योत पंवार, आदि मौजूद थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021