उत्तरकाशी : राइंका गढ़ बरसाली में कार्यरत शिक्षक मंगल ¨सह पंवार को इंस्पायर ग्रीन एजुकेटर पुरस्कार के लिए चुना गया है। विगत दो दशक से भी ज्यादा समय से शिक्षा, पर्यावरण संरक्षण, सामाजिक सेवा तथा स्काउ¨टग में उनके योगदान को देखते हुए पुरस्कार के लिए उनका चयन किया गया। यह पुरस्कार 24 सितंबर को संयुक्त राज्य अमेरिका के न्यूयार्क शहर में अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा एवं पर्यावरण सम्मेलन में दिया जाएगा।

शिक्षक मंगल ¨सह ने बताया कि दिल्ली, हरियाणा, तमिलनाडु, पांडिचेरी आदि राज्यों में सरकारी सेवाओं में आने से पहले अपनी सेवाएं दी हैं। दिल्ली में उन्होंने विभिन्न कार्यशाला में सरकारी एवं प्राइवेट विद्यालयों के साथ पारस्परिक सहयोग की भावना से पौधरोपण, स्वच्छता अभियान, कचरा निस्तारण आदि सार्वजनिक कार्यक्रमों की सहायता से जनजागरूकता अभियान चलाया। वर्ष 2005 में भी कनाडा प्रवास के समय एक अंतर्राष्ट्रीय शैक्षिक कार्यक्रम में शिक्षा एवं पर्यावरण स्वच्छता के लिए वहां भी सम्मानित किया। वर्ष 2006 में अंतर्राष्ट्रीय संस्था में नौकरी छोड़कर उत्तराखंड में कार्य करने का निश्चय किया। वर्तमान में वे शिक्षा विभाग में नवाचारी कार्यक्रम स्काउ¨टग, इको क्लब के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। (जासं)

Posted By: Jagran