उत्तरकाशी, [जेएनएन]: गंगा की स्वच्छता के नाम ढिंढ़ोरा भले ही गोमुख से लेकर गंगा सागर तक पीटा जा रहा है। लेकिन, गंगा की स्वच्छता की स्थिति कैसी है इसके लिए गंगा उद्गम उत्तरकाशी में ही यह स्वच्छता का अभियान दम तोड़ रहा है। यहां कूड़ा और सीवर सीधे गंगा में प्रभावित किया जा रहा है, लेकिन इसको रोकने के लिए जन के नायकों और तंत्र के नुमाइंदों ने कोशिश तक नहीं की है। केवल, अभी तक यह गंगा स्वच्छता कार्यक्रम फोटो खिंचवाने तक ही सीमित रहा है। 

गोमुख से गंगा (भागीरथी) के उद्गम के बाद उत्तरकाशी पहला शहर है जो गंगा के किनारे बसा है। उत्तरकाशी में गंगा स्वच्छता के लिए प्रशासन और संस्थाओं की ओर से कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं, लेकिन, गंगा स्वच्छता की हकीकत किसी से छुपी नहीं है। 

उत्तरकाशी नगर में सीवर लाइन बिछी है। जिसका ट्रीटमेंट प्लांट ज्ञानसू में है। उत्तरकाशी शहर की सीवर गंदगी को पंप के जरिये ज्ञानसू पहुंचाई जाती है। लेकिन असल में होता ये नहीं है। गंगा के तट पर काली कमली धर्मशाला के पीछे पंपिंग प्लांट है। इस पंप से सीवर की गंदगी को पंप करने के बजाय सीधे नदी में डाला जा रहा है। 

इससे पूरी नदी में गंदगी फैल रही है। जोशियाड़ा निवासी राकेश सिंह चौहान बताते हैं कि गंगा स्वच्छता के नाम पर केवल ढिंढोरा पीटा जा रहा है। जिस मणिकर्णिका घाट पर गंगा की आरती उतारी जाती है उसी के निकट कालीकमली धर्मशाला के पीछे पंङ्क्षपग प्लांट से सीवर को सीधे गंगा में डाला जा रहा है। इसके साथ ही पेट्रोल पंप से निकलती नाली जो होटल, अंबेडकर मोहल्ले की गंदगी ढो रही है, वह भी सीधे भागीरथी नदी में खोल दी है। 

वहीं तटवर्ती तेखला, जोशियाड़ा, तिलोथ, मांडो से भी रोजाना एकत्र हो रहा कचरा खुले आम नदी में डाला जा रहा है। फिलहाल नदी को दूषित करने वालों पर कार्रवाई तो दूर प्रशासन फिलहाल नदी में गिर रही गंदगी को रोकने को लेकर कोई भी कवायद करते नहीं दिख रहा।

गंदगी फैलाने पर होगी कार्यवाई 

अपर जिलाधिकारी पीएल शाह के मुताबिक सीवर नाला भागीरथी नदी में गिरने का मामला संज्ञान में नहीं है। इसका निरीक्षण कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। साथ ही अन्य स्थानों जो गंदगी गंगा में गिर रही है उसे भी रोका जाएगा। 

यह भी पढ़ें: नमामि गंगे के पहले चरण में गंगोत्री घाट को नहीं मिली जगह

यह भी पढ़ें: मंत्रालय बदलने से लटकी नमामि गंगे की 2200 करोड़ की डीपीआर

यह भी पढ़ें: तो अनुभवहीन खेवैय्या पार लगाएंगे नमामि गंगे की नैय्या

Posted By: Bhanu

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस