संवाद सूत्र, बड़कोट : मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सोमवार को बड़कोट और नैनबाग के विकास के लिए कई घोषणाएं की। उन्होंने बड़कोट को जहां नगर पालिका का दर्जा देने की घोषणा की वहीं नैनबाग में उपकोषागार और लघु कृषि मंडी खोलने का एलान किया। उन्होंने कहा कि सरकार सांस्कृतिक धरोहरों को संरक्षित रखने के लिए प्रतिबद्ध है।

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बड़कोट में राजकीय इंटर कालेज में रवांई शरदोत्सव एवं विकास मेले का उद्घाटन किया। अपने संबोधन में उन्होंने खेती और बागवानी के क्षेत्र में पहचान बनाने के लिए रवाई घाटी के लोगों की सराहना की। कहा कि प्रदेश सरकार खेती को बढ़ावा देने के लिए पूरी शिद्दत से काम कर रही है। इसके तहत प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्र को जैव मंडुआ क्षेत्र घोषित किया गया है। चारा फसलें उगाने की योजनाएं धरातल पर उतारी जा रही हैं।

कहा कि रवाई क्षेत्र समेत पूरी यमुना घाटी का विकास दिल्ली यमुनोत्री हाईवे पर निर्भर करता है। इस हाईवे की दशा सुधारने का काम शुरू कर दिया गया है। इससे यह क्षेत्र सीधे तौर पर देश की राजधानी से जुड़ सकेगा। यहा के उत्पाद, शिल्पकला व सास्कृतिक धरोहरों को दिल्ली तक पहुंचाया जा सकेगा। उन्होंने गावों में सीमेंट के सीसी मार्ग बनाने के चलन को नुकसान देह बताते हुए इससे बचने की अपील करते हुए पानी के संरक्षण पर जोर दिया।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने बड़कोट आईटीआई का नाम क्षेत्र के समाजसेवी रहे स्व.जोत सिंह रंवाल्टा के नाम पर नामकरण करते हुए शिलापट्ट का अनावरण किया। इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री प्रीतम सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष जशोदा राणा, नगर पंचायत अध्यक्ष अतोल सिंह रावत, पूर्व विधायक केदार सिंह रावत, राजेश जुवाठा, सकलचंद रावत, संजय डोभाल, राजेंद्र सेमवाल, आनंद राणा, विरेंद्र पयाल आदि मौजूद थे।

उधर, नैनबाग में मुख्यमंत्री ने स्व. सरदार राजकीय इंटर कालेज में पिछड़ी अनुसूचित जाति एवं जनजाति विकास समिति की ओर से आयोजित 29 वां क्रीड़ा एवं सांस्कृतिक विकास मेले में शिरकत की। कहा कि यहां की संस्कृति उत्तराखंड की धरोहर है और इसे संरक्षित रखा जाएगा। उन्होंने क्षेत्र में उपकोषागार खोलने का एलान किया। उन्होंने कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा करते हुए कहा कि 60 साल से ऊपर की महिलाओं को आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से मिड डे मील दिया जाएगा। विकासखंड में राजीव गांधी योजना के तहत आधुनिक सुविधा से युक्त विद्यालय खोले जाएंगे। नैनबाग सांस्कृतिक मंच को दो लाख रुपये देने की घोषणा की। क्षेत्रीय विधायक महावीर सिंह रांगड़ ने थौलधार क्षेत्र को ओबीसी घोषित करने की मांग की। इस मौके पर शहरी विकास मंत्री प्रीतम सिंह पंवार, पूर्व मंत्री नारायण सिंह राणा, मसूरी नगर पालिका अध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल, जिला कांग्रेस अध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट, पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला ब्लाक प्रमुख कुंवर सिंह पंवार आदि मौजूद थे।

----------

बड़कोट में यह की घोषणाएं

-तिलाड़ी शहीद दिवस मेले को राजकीय स्तर पर मनाया जाएगा

-बड़कोट में बस पार्किंग के ऊपर ऑडिटोरियम का निर्माण

-बड़कोट में मिनी स्टेडियम का निर्माण

-राजकीय इंटर कॉलेज व बालिका इंटर कॉलेज के फर्नीचर की घोषणा

-तीन पर्यटन गावों को ट्रैक रूट से जोड़ने की घोषणा

-तीन शिक्षण संस्थाओं के नाम क्षेत्र के तीन समाजसेवियों के नाम पर करने की सैद्धातिक घोषणा

-बीफ व खरसाली गाव में चकबंदी को राजस्व अभिलेखों में दर्ज कराने की स्वीकृति

---------

नैनबाग में यह की घोषणा

-खरसोन मोटर मार्ग, फफरोग, सुमनक्यारी, बणगांव का डामरीकरण होगा।

-नैनबाग टटोर चिलामू तक पांच किलोमीटर मार्ग का नवनिर्माण

-सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का उच्चीकरण।

-नैनगांव लिफ्ट सिंचाई योजना को दी स्वीकृति।

-आइआइटी में दो और ट्रेड खोले जाएंगे।

15 एनडब्ल्यूटीपी 5

नैनबाग में राजकीय इंटर कालेज में सभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री हरीश रावत। जागरण