जागरण संवाददाता, काशीपुर : एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में किसानों को आय बढ़ाने के तरीके बताए गए। इस मौके पर गन्ने के फसल के लिए विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई।

मंगलवार को व्यवसायिक फसल गन्ना पर एक दिवसीय प्रशिक्षण मंगलवार को गन्ना अनुसंधान केंद्र पर हुआ। इस दौरान किसानों को गन्ने की खेती, प्रजातियों का चुनाव, गन्ना बीज उत्पादन, तकनीकी खरपतवार रोग और कीट प्रबंधन के साथ-साथ गन्ने की सहफसली खेती और गन्ने की सीनरी की फसल को लेकर जानकारी दी गई। प्रशिक्षण में खटीमा, सितारगंज, हल्द्वानी, बाजपुर, काशीपुर, जसपुर जोन से आए गन्ना किसानों ने हिस्सा लिया। ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक राकेश कुमार ने गन्ना उत्पादन के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी। कार्यक्रम में किसानों का पंजीकरण संदीप कुमार सिंह व नीरज भदोला ने किया। सहायक निदेशक गन्ना विकास निदेशालय लखनऊ के डा. महेश कुमार मुख्य अतिथि रहे। अध्यक्षता प्रभारी अधिकारी गन्ना अनुसंधान केंद्र डा. एएस जीना ने की। संचालन डा. संजय कुमार व डा. सिद्धार्थ कश्यप ने किया। इस दौरान अनिल कुमार चौहान, सुदेश रतन कौशिक, आरके श्रीवास्तव, दिग्विजय सिंह, बबीता रानी, नरेश सिंह, किरण तिवारी, ओमप्रकाश मौजूद रहे। अभद्रता का आरोप लगा दिया धरना

कृषि विज्ञान केंद्र अधिकारी पर महिला किसान से अभद्रता का आरोप लगाकर किसानों ने धरना शुरू कर दिया। बाद में अधिकारी के खेद जताने पर धरना समाप्त किया। मंगलवार को कृषि विज्ञान केंद्र में किसानों की वर्चुअल बैठक चल रही थी। महिला किसानों के साथ अन्य किसानों को उत्तम कृषि का प्रशिक्षण दिया जा रहा था। बैठक समाप्त होने के बाद एक महिला किसान ने केंद्र अधिकारी से कुछ फूल के पौधे मांगे। आरोप है कि पौधे मांगने पर केंद्र अधिकारी ने अभद्र भाषा का प्रयोग किया। इससे आक्रोशित किसान ब्रह्मनगर निवासी गविद्र सिंह गवि की अगुवाई में केंद्र के गेट पर धरने में बैठ गये। उन्होंने कहा कि केंद्र में आये दिन किसान बैठक और प्रशिक्षण के लिए आते रहते हैं। केंद्र अधिकारी ने महिला किसान से अभद्र भाषा का प्रयोग कर किसानों को अपमानित किया है। उन्होंने मौके पर प्रशासनिक अधिकारी के आने और आरोपी अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। उन्होंने मांग पूरी न होने तक धरना जारी रखने की चेतावनी दी। शाम करीब पांच बजे केंद्र अधिकारी के धरना स्थल पर पहुंच खेद जताने पर धरना समाप्त किया। इस मौके पर दिलीप कुमार, धर्मवीर, सतपाल, नानक चंद, रक्षपाल, विनोद कुमार, नीरज मौजूद रहे।

Edited By: Jagran