जागरण संवाददाता, काशीपुर: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि नाबालिग लड़कियों के साथ दुष्कर्म के मामले में फांसी का कानून बनेगा। इसके लिए अगले विधानसभा सत्र में प्रस्ताव लाएगा। जिससे आरोपितों को सजा मिल सके।

मुख्यमंत्री रावत ने भाजपा प्रदेश कार्य समिति की बैठक के बाद गुरुवार को पत्रकारों को बताया कि सरकार के किए गए कार्यों के बारे में कार्यकर्ताओं से अच्छी फीड बैक मिला है। सरकार के कामकाज से कार्यकर्ता ने खुशी जाहिर की है। भ्रष्टाचार मुक्त, सबका विकास की जा रही है। थराली विधानसभा उपचुनाव में भाजपा की जीत हुई थी। जिला पंचायत के रिक्त पांच सीटों में चार पर भाजपा की जीत हुई थी। सहकारिता चुनाव होने वाला है। इसके लिए कार्यकर्ताओं को अभी से एकजुट होने को कहा गया है। एक सवाल के जवाब में कहा कि घोटाला घोटाला होता है, हमारे समय भी घोटाले हो सकते है। किसी ने भ्रष्टाचार किया तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यदि कोई जांच में सामने आएगा तो कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। बताया कि देश का उत्तराखंड पहला राज्य है, जहां पर आयुष्मान भारत योजना में 26 लाख लोग लाभावित होंगे। इसमें देश के किसी भी अस्पताल में इलाज कराने वालों को पांच लाख रुपये तक सरकार खर्च करेगी। इस मौके पर शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक, भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोरा मौजूद थे।

========= जिले पर सीएम बोले: हां हमने भी सुना है काशीपुर: प्रेसवार्ता के दौरान सीएम रावत से काशीपुर को जिला बनाने की मांग पर सवाल किया तो गया तो उन्होंने कहा, हमने भी सुना है। गुरुवार को कार्यक्रम स्थल पर विरोध करने जा रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर पुलिस लाइन रुद्रपुर भेज दिया। उन्होंने काशीपुर को जिला बनाने की मांग कर रहे थे। सीएम के जवाब सुनकर लोग चर्चा कर रहे थे कि इस जवाब से काशीपुर को जिला बनाने की मांग का मजाक उड़ाया गया है।

By Jagran