जागरण संवाददाता, काशीपुर : कामवाली की बेटी को बंधक बनाकर दबंगों ने घर से जेवरात चोरी करने के साथ ही इकबाले जुर्म कबूलने का दबाव बनाया। साथ ही पुलिस में शिकायत कर बंद करवाने की धमकी भी दी। इससे महिलाओं का गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने पीड़िता के साथ कोतवाली पहुंचकर दारोगा का घेराव किया। साथ ही कार्रवाई की मांग की। दारोगा ने महिलाओं को समझा-बुझाकर वापस भेज दिया।

ग्राम ढकिया गुलाबो निवासी चमेली देवी पत्नी स्व. कल्लू छीन फार्म निवासी एक व्यक्ति के घर में काम करती है। चमेली ने बताया कि तीन जनवरी को वह वहां से घर आई थी। इस दौरान बेटी के पास चमेली द्वारा सात-आठ तोले सोने के जेवरात चोरी करने का फोन आया। इसके बाद बेटी कंचन और बुआ छीना फार्म गईं तो इस दौरान दबंगों ने कंचन को कमरे में बंद कर लिया। साथ ही दबंगों ने उस पर चमेली द्वारा चोरी करने का जबरन इकबाले जुर्म कबूलने का दबाव बनाया। हालांकि बुआ ने हेकड़ी दिखाई तो दबंगों ने उसे छोड़ दिया। सोमवार को कोतवाली पहुंची महिलाओं ने दारोगा प्रकाश चंद टम्टा का घेराव किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि दबंग जुर्म कबूल न करने पर पुलिस शिकायत करके बंद कराने की धमकी दे रहे हैं। महिलाओं ने पुलिस से दबंगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। दारोगा ने महिलाओं को मामले की जांच कर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। जिसके बाद महिलाएं वापस लौट गईं। इस मौके पर अर्चना, गीता, अनीता, पूजा, सुमन, कुसुम, कंचन व चमेली आदि मौजूद रहीं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप