संवाद सहयोगी, खटीमा: सरकार के मंगलवार से एक हफ्ते के लिए कोविड क‌र्फ्यू लागू करने की घोषणा से सोमवार को खरीददारी करने वालों बाढ़ आ गई। जिससे शहर की यातायात व्यवस्था बेपटरी हो गई। आलम यह था कि एक बजे तक मुख्य सड़क पर वाहन रेगते रहे। टनकपुर रोड व सितारगंज रोड पर दो किलोमीटर लंबा जाम लगा रहा है। ऐसे में राहगीरों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

बता दें कि नगर की यातायात व्यवस्था लंबे से पटरी से उतरी हुई है। खाली पड़े फुटपाथों पर सब्जी-फल के फड़ व ठेले लग रहे हैं। इसके अलावा बैंकों के बाहर सड़क तक आड़े-तिरछे वाहन खड़ा करने से भी यातायात अवरुद्घ होता रहता है। कोरोना महामारी के चलते सरकार ने मंगलवार से दूध, फल, सब्जी, व मीट की दुकानें सुबह सात से दस बजे तक खोलने के निर्देश दिए है। परचून की दुकानें बंद रहेगी। इसको लेकर सोमवार को बड़ी संख्या में लोग बाजार में खरीददारी एवं बैंकों से पैसे निकालने पहुंचे। जहां आड़े-तिरछे वाहनों से जाम की स्थिति पैदा हो गई। दिन में कई बार शहर के टनकपुर मार्ग से सितारगंज मार्ग के कंजाबाग तिराहे तक कई किलोमीटर लंबा जाम लगा। इस वजह से लोग लोगों का पैदल चलना तक दूभर हो गया। वहीं इस दौरान लोग शारीरिक दूरी का भी पालन भी करते हुए नहीं दिखाई दिए। सीओ मनोज ठाकुर ने बताया कि यातायात व्यवस्था बेहतर बनाने के लिए जगह-जगह पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है। साथ ही गलत ढ़ंग से खड़े होने वाले वाहनों के विरुद्घ कार्रवाई भी की जा रही है।