संवाद सहयोगी, खटीमा : उत्तरांचल संगीत एवं कला समिति के वार्षिकोत्सव में राग-रागिनियों की रसधार बही। स्कूल के बच्चों ने विभिन्न रागों पर आधारित सुधुर प्रस्तुतियों से जनसमूह को मंत्र मुंग्ध कर दिया।

विकासखंड सभागार में आयोजित समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि वाणिज्य कर के सेवानिवृत असिस्टेंट कमिश्नर जीएस मर्तोलिया, ब्लॉक प्रमुख दान सिंह राणा, संस्थाध्यक्ष एडवोकेट हरीश जोशी, सुरेंद्र कौर, संगीतज्ञ अवधेश गोस्वामी ने मां सरस्वती के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर किया। इस दौरान नन्हे कलाकारों ने हारमोनियम व तबले पर विभिन्न रागों पर आधारित गीतों में सुंदर संगत दी। बच्चों ने राग केदार, कजरी, छाया नट, जै-जैवंती, देश आदि में मधुर रचनाएं प्रस्तुत की। शिव भोला की प्रस्तुति को सभी ने सराहा। प्रियंका बुंगला ने सुंदर कथक नृत्य की प्रस्तुति से तालियां बटोरी, वर्तिका जोशी ने-मोहे पनघट के नंद लाल गीत पर सुंदर नृत्य प्रस्तुत किया। मेघा, रिचा, गरिमा, सुनीता, अनन्या, रूपाली, प्राची, मिहिर, पीयूष, मंयक, चिराग, मेघा, गरिमा, मानसी, महिमा, दिव्यांशु, तन्मय, गौरव, कमल, कनिष्का, माही, मिताली, कर्निका, अंजू, दीपांशु, नमन, अंश, जतिन, मयंक, गरिमा जोशी, कपिल, ललित, रामरूप आदि नन्हे-मुन्ने बच्चों ने मनमोहक प्रस्तुतियों से सुरों का जलबा बिखेर दिया। इस दौरान दयानंद जोशी, मनोज गुणवंत, अंजू भट्ट, गीता वर्मा, सिद्घार्थ नेगी को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। संस्था के डायरेक्टर गिरीश जोशी व सह डायरेक्टर ललित जोशी ने आगंतुको का आभार जताया। इस मौके पर डॉ.लता जोशी, धीरेंद्र भट्ट, बीएस मेहता, गीताराम बंसल आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran