जागरण संवाददाता, रुद्रपुर : स्कूटी व बाइक के नंबर पर नदियों से अवैध रूप से उपखनिज ढोने वालों की पुलिस भी जांच करेंगी। इसके लिए डीएम ने एडीएम उत्तम सिंह चौहान को निर्देश दिए। चेक पोस्ट पर गुजरने वाले वाहनों के नंबर सीसीटीवी कैमरे में कैद होंगे। इस जांच में पुलिस की कार्यशैली भी पकड़ में आ जाएगी।

उपनिदेशक खनन ने आरटीओ पिथौरागढ़ को भी वाहनों के नंबरों की सूची मांगी है। यूएसनगर में खनन क्षेत्र में पुलिस चेक पोस्ट बने हैं। जहां पर सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं। कोसी नदी में अवैध खनन ज्यादा होता है। इस खेल में खनन माफिया ने पिथौरागढ़ के वाहन से उपखनिज रायल्टी में दर्शाकर करोड़ों रुपये का अवैध खनन कर लिया। यह भी दिखाया गया कि पिथौरागढ़ से छह घंटे में यूएस नगर उपखनिज पहुंचा दिया गया, जबकि भौगोलिक स्थिति के हिसाब से इतने समय में वाहन का पहुंचना संभव नहीं है। जिन वाहनों से खनिज लाना दिखाया गया है, वह भी स्कूटी व बाइक के नंबर है। इस मामले को डीएम रंजना राजगुरु ने जांच एडीएम उत्तम सिंह चौहान को सौंपी है। साथ ही एडीएम व उपनिदेशक खनन दिनेश कुमार पुलिस से भी जांच कराने को कहा, जिससे चेक पोस्ट से गुजरने वाले वाहनों के नंबर पकड़ में आ जाएंगे। उपनिदेशक खनन दिनेश कुमार ने बताया कि पुलिस के साथ आरटीओ पिथौरागढ़ से वाहनों की सूची मांगी गई है। जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने कहा कि जांच के आधार पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अवैध खनन में शामिल लोगों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा।

Edited By: Jagran