काशीपुर, जेएनएन। चीनी मिल में तैनात गार्द के सिपाही के साथ मारपीट कर ट्रैक्टर ट्रॉली लूटने वाले चार खनन माफिया कोर्ट में सरेंडर करने जाने के दौरान पुलिस के हत्थे चढ़ गए। आरोपितों ने दारोगा पर ट्रैक्टर चढ़ाकर मारने का प्रयास किया था। पुलिस ने आरोपितों के पास से लूटी गई ट्रैक्टर-ट्रॉली बरामद की है, जबकि तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है। हालांकि, अभी भी एक आरोपित पुलिस गिरफ्त से बाहर चल रहा है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए भी जुटी है। 

22 दिसंबर की रात करीब साढ़े छह बजे कुछ खनन माफिया टांडा उज्जैन स्थित शुगर फैक्ट्री पहुंचे थे। जहां से उन्होंने रेते से भरे सीज खड़े दो ट्रैक्टर-ट्रॉली को लूटकर ले जाने का प्रयास किया था। विरोध जताने पर आरोपितों ने मिल में तैनात गार्द के सिपाही नरेंद्र सिंह के साथ गाली-गलौज करने के साथ ही मारपीट की थी। जिसके बाद आरोपित एक ट्रैक्टर-ट्रॉली को लूटकर ले गए थे, जबकि गेट से टकराने की वजह से आरोपितों ने एक ट्रैक्टर-ट्रॉली को मौके पर ही छोड़ दिया था।

सूचना पर आरोपितों को रोकने पहुंचे दारोगा संदीप पिलखवाल पर भी ट्रैक्टर-ट्रॉली चढ़ाकर मारने का प्रयास किया था। इस दौरान उनकी टांग भी फ्रैक्चर हुई थी। सिपाही नरेंद्र की तहरीर पर पुलिस ने आठ आरोपितों के खिलाफ नामजद सहित 10-12 अन्य के खिलाफ लूटपाट, गाली-गलौज, मारपीट, जान से मारने की धमकी व जान से मारने की नियत से ट्रैक्टर चढ़ाने आदि जैसी संगीन धाराओं में केस दर्ज किया था।

बुधवार दोपहर दो बजे एएसपी डॉ. जगदीश चंद्र व सीओ राजेश भट्ट ने खुलासा करते हुए बताया कि फरार आरोपित अमरजीत सिंह पुत्र दरबारा सिंह निवासी वैशाली कॉलोनी सुभाष नगर, जसविंदर सिंह उर्फ जस्सा पुत्र निंदर सिंह निवासी ग्राम अजीतपुर, थाना आइटीआइ, पलविंदर सिंह उर्फ गोलू पुत्र निंदर सिंह निवासी ग्राम अजीतपुर, थाना आइटीआइ व हरजीत सिंह उर्फ मंगा पुत्र सतनाम सिंह निवासी कुंडेश्वरा, दढियाल, थाना टांडा, रामपुर उप्र को कोर्ट में सरेंडर करने जाने के दौरान सुबह 8:10 बजे गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में आरोपितों ने लूटी हुई ट्रैक्टर-ट्रॉली को ग्राम अजीतपुर कोसी नदी किनारे आम के बाग में गड्ढे में छिपाना बताया। आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने ट्रैक्टर-ट्रॉली को बरामद कर लिया। हालांकि, ग्राम अजीतपुर निवासी दिलबाग सिंह बागा पुत्र सुरेंद्र अभी भी पुलिस की गिरफ्त से फरार चल रहा है। दिलबाग जसविंदर और पलविंदर का चचेरा भाई है। पुलिस ने सभी आरोपितों को कोर्ट में पेश कर दिया। 

यह भी पढ़ें: निर्माणाधीन मकान से सेटरिंग चोरी करने वालों को दबोचा

यह भी पढ़ें: तमंचे के बल पर बदमाशों ने सेल्समैन को लूटा, पुलिस रातभर करती रही तलाश

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप