जासं, रुद्रपुर: बजट को लेकर लोगों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। अधिकांश लोगों की मानें तो बजट में सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है। योजनाओं के माध्यम से सभी वर्गों को जोड़ने का प्रयास है। कृषि क्षेत्र को और मजबूत किया जाना चाहिए।

---------

बजट में युवाओं, महिलाओं, किसानों के साथ ही रेल, जल मिशन, नमामि गंगे, उच्च शिक्षा, चिकित्सा के लिए अहम निर्णय लिए गए हैं। कोरोना काल के आपदा वर्ष में राजस्व वसूली में आई भारी गिरावट के बाद भी प्रवासी मजदूर, राज्य से पलायन, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, घसियारी कल्याण, किसान गन्ना भुगतान, समग्र शिक्षा, सर्व शिक्षा अभियान पर योजनाबद्ध धनराशि की व्यवस्था की गयी है। विकास को प्रत्यक्ष प्रभावित करेगा।

- केके शर्मा, शिक्षक, रविद्रनगर प्राथमिक विद्यालय, रुद्रपुर ----------------------

बजट में हर वर्ग के लिए बेहतर है। महिलाओं को अब सिर पर बोझ नहीं ढोना पड़ेगा। सरकार स्पेशल चारा गांव में सप्लाई करेगी। इससे महिलाओं का स्वास्थ्य ठीक रहेगा। मकान की रजिस्ट्री में पत्नी का भी हक रहेगा। बिना पत्नी के सहमति से मकान नहीं बेचा जाएगा। यह एक सराहनीय कदम है। इससे महिलाओं का हक बरकरार रहेगा।

- डा. प्रवीन श्रीवास्तव, चिकित्सक, जवाहर लाल नेहरू, जिला चिकित्सालय, रुद्रपुर

--------------

बजट में पलायन, चिकित्सा, शिक्षा को ओर अधिक महत्व दिया गया है। बजट में सरकारी स्कूलों में कक्षा आठ तक के बच्चों को जूते व बैग के लिए बजट का प्रविधान किया गया है। इससे बच्चे पब्लिक स्कूलों की तरह अपडेट होकर स्कूल आएंगे। बढ़ती मंहगाई पर राज्य सरकार को नागरिकों गैस, डीजल, पेट्रोल पर राहत मिलनी चाहिए थी।

- हरीश दनाई, अध्यक्ष, शिक्षक संघ

------------------- बजट में शिक्षा, चिकित्सा और युवाओं को रोजगार देने के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। युवा वर्ग के लिए थोड़ा और राशि रखनी चाहिए थी। राष्ट्रीय खेल के लिए बजट मिलने से खेल प्रतिभाओं को और निखारा जा सकेगा। नेशनल गेम्स भी प्रदेश में हो सकेंगे। एएनएम का कोर्स कर चुके लोगों के लिए भी खुशखबरी है। गैस, डीजल, पेट्रोल पर राहत मिलती तो जन हित का बड़ा कदम होता। महिलाओं की सुरक्षा के लिए व युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने को लेकर प्रयास सराहनीय है।

- रचित सिंह, छात्रनेता-

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021