जागरण संवाददाता, रुद्रपुर। Murder of missing man in Udham Singh Nagar : मुखबरी के शक में रम्पुरा निवासी लापता युवक की हत्या कर दी गई है और उसका शव पीलीभीत में जहानाबाद रेलवे क्रासिंग के समीप खाई में फेंक दिया गया था। इस हत्याकांड का का एक आरोपी पहले से ही जेल में है। पुलिस ने उसे जिला कारागार से रिमांड पर लेकर पूछताछ की तो हत्याकांड का पर्दाफाश हुआ। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। जहानाबाद पुलिस ने शव का पंचायतनामा भरवाकर पोस्टमार्टम को भिजवाया है।

दो सितंबर से था लापता

रम्पुरा वार्ड नंबर 22 निवासी 23 वर्षीय धारा कोली पुत्र स्वर्गीय रोशनलाल को बीते महीने दो सितंबर को स्वर्गफार्म बिलासपुर रामपुर निवासी सुजीत अपनी बाइक में बैठाकर ले गया था। काफी देर तक जब वह घर नहीं पहुंचा तो स्वजनों ने उसकी तलाश शुरू की। 17 सितंबर को स्वजन सुजीत के घर गए, जहां सुजीत की मां ने बताया कि वह काम करने के लिए जम्मू कश्मीर चला गया है।

आरोपी 12 सितंबर से जेल में

इसके बाद धारा कोली के स्वजनों ने सुजीत का नंबर लेकर उससे संपर्क किया तो सुजीत ने बताया कि बगवाड़ा मंडी से धारा को किच्छा निवासी छत्तरपाल अपने साथ कार में बैठाकर ले गया था। इसका पता चलते ही वे लोग छत्तरपाल के घर गए, जहां उसकी पत्नी ने बताया कि 12 सितंबर को छत्तरपाल जेल चला गया है।

ये भी पढ़ें : जिन पर गायब करने का शक उनमें से एक जेल में, दूसरा पहुंचा जम्मू 

मां ने दर्ज कराया था मुकदमा

इधर, धारा कोली की मां धनदेवी ने कोतवाली रुद्रपुर में तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके बाद पुलिस ने सुजीत को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पूछताछ के बाद पुलिस ने जेल में बंद छत्तरपाल को तीन दिन के रिमांड पर लिया। छत्तरपाल ने पूछताछ में गला दबाकर हत्या की बात कबूल की। इस पर पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर पीलीभीत के जहानाबाद थाना क्षेत्र के जहानाबाद रेलवे क्रासिंग के समीप खाई से शव को बरामद किया। इस दौरान स्थानीय जहानाबाद थाने से एसएसआई सुशील कुमार भी मौजूद रहे। जहानाबाद पुलिस ने शव का पंचायत नामा भरकर पोस्टमार्टम को भिजवाया है।

कार में गला दबाकर की गई थी हत्या

आरोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसने कार में ही गला दबाकर धारा कोहली की हत्या की थी। हत्या करने के बाद उनका इरादा लाश को काफी दूर ले जाकर ठिकाने का था। उसके साथ हत्याकांड में उसका एक दोस्त भी शामिल था।

क्रासिंग बंद होने के कारण खाई में फेंका शव

हत्यारोपित ने पूछताछ के दौरान कई चौंकाने वाले राज पुलिस को बताए हैं। पुलिस के मुताबिक कातिल ने तीन सितंबर की रात में ही हत्या कर दी थी। वह अपने साथी के साथ कार से शव को लेकर पीलीभीत तक गए। शव को आगे ले जाकर सूनसान इलाका देखकर फेंकना था लेकिन जहानाबाद रेलवे क्रासिंग बंद था। इसके बाद शव को क्रॉसिंग के समीप खाई में फेंककर फरार हो गए।

ये भी पढ़ें : रुद्रपुर में पत्नी की गला घोंटकर हत्या, खुद भी फंदे पर लटका, फंदा टूटने से गिरकर हुआ बेहोश

नशे का आदि था मृतक

मृतक के भाई ओमवीर ने बताया कि उसका भाई नशे का आदि हो गया था। इस कारण आरोपित ने उस पर मुखबिरी करने का शक किया। अपने भाई का शव सड़ी गली हालत में देखकर वह रोने लगा। मृतक छह भाई थे। मृतक के पिता की मौत हो चुकी है।

Edited By: Rajesh Verma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट