संवाद सहयोगी, रुद्रपु़र : दस या दस से कम छात्र संख्या वाले राजकीय प्राथमिक विद्यालयों को बंद करने के निर्देश दिए गए थे। जिस पर सितारगंज के दो स्कूलों में ताले लगा दिए गए हैं। साथ ही स्कूल में अध्ययनरत छात्रों को पास के स्कूल में भेज समायोजित करा दिया गया।।

ऊधम¨सह नगर में 790 राजकीय प्राथमिक विद्यालय और 260 माध्यमिक विद्यालय हैं। जिनमें करीब सवा लाख छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं। सितारगंज के ग्राम बहुआलाल खट्टा राजकीय प्राथमिक विद्यालय और मीलन नजीर राजकीय प्राथमिक विद्यालय में छात्र संख्या दस से कम थी। इन विद्यालयों में दो शिक्षकों की तैनाती थी, लेकिन शिक्षा विभाग के आदेश पर दस छात्रों से कम होने पर स्कूल को बंद कर दिया गया। जिसके बाद राजकीय प्राथमिक विद्यालय बहुआखट्टा के छात्र और शिक्षक को एचता बीही और मीलन नजीर स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय के छात्रों को सुनखड़ी में समायोजित कर दिया गया और विद्यालयों में ताले लगा दिए गए। जिला शिक्षा अधिकारी रवि मेहता ने बताया कि एक किलोमीटर के अंदर दो स्कूल होने पर तथा 10 से कम छात्र संख्या वाले स्कूलों को बंद किया जाना है। बताया कि जिले में 11 ऐसे विद्यालय और हैं जिनमें छात्र संख्या 10 से कम है। उन स्कूलों में एक-एक शिक्षकों की तैनाती की गई।

Posted By: Jagran