संवाद सूत्र, जसपुर: दाखिल खारिज की अविवादित फाइलों का निस्तारण न होने से गुस्साए बार एसोसिएशन के अधिवक्ताओं ने नायब व तहसीलदार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर हंगामा किया। शनिवार को इससे पहले बार कार्यालय में इमरजेंसी बैठक कर नायब तहसीलदार का तबादला होने तक उनके कोर्ट का बहिष्कार करने का प्रस्ताव पास किया गया। बार एसोसिएशन के अध्यक्ष दिनेश शर्मा के नेतृत्व में अधिवक्ताओं ने कार्यालय में इमरजेंसी बैठक की। यहां उन्होंने बताया कि एक माह पूर्व अधिवक्ताओं के प्रतिनिधि मंडल ने नायब तहसीलदार सुदेश कुमार से मिलकर अविवादित दाखिल खारिज की फाइलों का शीघ्र निस्तारण करने की मांग की थी। इस पर उन्होंने 15 दिन के अंदर फाइलों का निस्तारण का आश्वासन दिया था। समयावधि पूरी होने के बाद प्रतिनिधि मंडल ने दोबारा नायब तहसीलदार व तहसीलदार से मुलाकात की। दोनों अधिकारियों के संतोषजनक उत्तर न देने पर अधिवक्ताओं शनिवार को विरोध प्रदर्शन कर नारेबाजी की। नायब तहसीलदार का तबादला होने तक उनके कोर्ट के बहिष्कार का निर्णय लिया। तहसीलदार विपिन पंत ने बताया कि नियमानुसार फाइलें निस्तारण करने का प्रयास किया जा रहा है। उनके द्वारा कई बार अधिवक्ताओं से वार्ता करने की कोशिश की गई, लेकिन अधिवक्ताओं ने उनकी एक नहीं सुनी। इस मौके पर दिनेश शर्मा, रवीश जैन, मुनेश कुमार, मनोज जोशी, अंकित वर्मा, रवि, राजीव कुमार, सुधीर चौहान, मनोज चौधरी, देवेंद्र मोहन, पीतांबर सिंह, जावेद अख्तर व दीवान सिंह आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप